प्रशासन
अनुसूचित जाति/जनजाति/अन्य पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ

श्री एम. एम. रियांग

संयुक्त कुलसचिव (अ.जा./जनजा./अ.पि.व. आरक्षण हेतु संपर्क अधिकारी)

संपर्क-सूत्र:

दूरभाष सं. : +91-381 – 2374800, 2379030 (कार्यालय)

ई.मेल: This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.

आरक्षण-प्रकोष्ठ पर संक्षिप्त प्रतिवेदन:
  • अ.जा./अ.जनजा./अ.पि.व. प्रकोष्ठ का मुख्य उत्तरदायित्व विश्वविद्यालय में सीधी भर्ती और पदोन्नति, दोनों के लिए सभी श्रेणियों के आरक्षण रोस्टरों का रखरखाव करना है। किसी भी भर्ती अधिसूचना/पदोन्नति से पूर्व वैयक्तिक/ स्थापना शाखा को अ.जा./अ. जनजा./अ.पि.व. प्रकोष्ठ से रोस्टर आरक्षण बिंदु प्राप्त करने होते हैं।
  • प्रकोष्ठ अपूर्तपदों की निगरानी करता है और अपूर्तपदों को भरने के उपाय करता है।
  • प्रवेश, रोज़गार, छात्रावासों, आवास-गृहों आदि के आबंटन, अ.जा. /अ.जनजा./अ.पि.व. के नामांकन और भर्ती संबंधी वार्षिक सांख्यिकीय आंकड़ों का नियमित रूप से रखरखाव होता है और इन्हें वि.अ.आ. को भेजा जाता है।
  • मानव संसाधन विकास मंत्रालय, वि.अ.आ., अ.जा./अ.जनजा./अ.पि.व. कल्याण सम्बन्धी संसदीय समितियों, लोकसभा, राज्यसभा और राष्ट्रीय अ.जा./अ.जनजा. आयोग आदि को विश्वविद्यालय सभी पहलुओं से संबंधित सांख्यिकीय सूचनाएँ समय-समय पर और तत्परता से प्रदान कर रहा है।
  • प्रकोष्ठ समय-समय पर संसदीय प्रश्नों के उत्तर और अ.जा./अ.जनजा., अ.पि.व., शारीरिक विकलांगों और सामान्य के कल्याण सम्बन्धी संसदीय समितियों को ऐसी अन्य संबंधित सूचनाएँ प्रेषित करता रहा है।
  • प्रकोष्ठ पदोन्नति/भर्ती, आवास आबंटन आदि के संबंध में विभिन्न विश्वविद्यालय समितियों को अ.जा./अ.जनजा./अ.पि.व. आरक्षण संबंधी नवीनतम-नियम व स्थिति के बारे में मार्गदर्शन प्रदान करता है।
  • अंततः यह कहा जा सकता है कि प्रकोष्ठ सभी अ.जा./अ.जनजा./अ.पि.व./शा.वि. कर्मचारियों और छात्रों हेतु प्रयोक्ता-सापेक्ष परामर्शदाता है।
आरक्षण:
कार्यालय कर्मचारी एवं उनका संपर्क-सूत्र
फोटोनामपदसंपर्क-सूत्र