विभाग
मनोविज्ञान विभाग

विभाग का संक्षिप्त परिचय :

त्रिपुरा विश्वविद्यालय में मनोविज्ञान विभाग में वर्ष 2012 में एमएससी एप्लाइड मनोविज्ञान और पीएचडी कार्यक्रम की शुरुआत इस प्रतिबद्धता के साथ हुई कि यहां से तैयार मनोवैज्ञानिक भारत व विश्व के विकास में बेहतर योगदान देंगे। ये कार्यक्रम नैदानिक मनोविज्ञान और संगठनात्मक मनोविज्ञान में दोहरी विशेषज्ञता प्रदान करते हैं। कार्यक्रम में मनोवैज्ञान के छात्रों को सक्षम बनाने पर जोर दिया गया है ताकि वे स्वरोजगार स्थापित कर सकें ।मनोविज्ञान विभाग मानसिक स्वास्थ्य के प्रबंधन के ज्ञान को आगे बढ़ाने के लिए समर्पित है। हम अपने छात्रों को शिक्षक, सलाहकार, चिकित्सक, प्रशिक्षक और शोधकर्ताओं के रूप में ऐसे प्रशिक्षित करते हैं ताकि वे मानव विकास और व्यवहार के क्षेत्रों में बेहतर साबित हो सकें।
विभाग ने विभिन्न चिकित्सीय और उपचारात्मक तकनीक प्रदान करने के लिए एक उन्नत मनोविज्ञान प्रयोगशाला की स्थापना करने का निश्चय किया है ताकि किसी व्यक्ति के दैहिक और व्यवहारिक समस्याओं का समाधान बेहतर तरीके से हो सके। विभाग एक मानसिक स्वास्थ्य परामर्श केन्द्र प्रारंभ करने की योजना भी बना रहा है जरूरतमंद छात्रों व आमलोगों को इसकी सुविधा प्रदान की जा सके।

स्थापना वर्ष:

2011

विभागाध्यक्ष / समन्वयक:

-

संचालित कार्यक्रम:

  • एमएससी (एप्लाइड मनोविज्ञान)
  • पीएचडी (मनोविज्ञान)

प्रवेश क्षमता:

  • एमएससी - 14
  • पीएचडी

कुल नेट पात्रता प्राप्त छात्र :

--

पीएचडी उपाधि प्रदत्त कुल छात्र :

--

कुल शोध परियोजना अनुदान (पूर्ण एवं अविरत ):

--

विभिन्न उपलब्ध कार्यक्रमों हेतु पाठ्यक्रम:

  • एम. एससी. : डाउनलोड करें
  • पीएच.डी. कोर्स वर्क: डाउनलोड करें
  • अनुसन्धान पात्रता परीक्षा (आरईटी): डाउनलोड करें
 
  • 17 मार्च 2017 “ भारत में युवा- मुद्दे एवं चुनौतियाँ” विषयक राष्ट्रीय संगोष्ठी

संपर्क करने हेतु पता :

मनोविज्ञान विभाग
त्रिपुरा विश्वविद्यालय (केंद्रीय विश्वविद्यालय), सूर्यमणिनगर
त्रिपुरा, भारत -799022
दूरभाष सं:(0381) - 2379003,
फैक्स: (0381) - 2374803
ई-मेल: This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.
--
© त्रिपुरा विश्वविद्यालय                                                                                                                                                      रूपांकन : वाया विटे सॉल्यूशनस