विभाग
समाजशास्त्र विभाग

विभाग का संक्षिप्त परिचय :

त्रिपुरा विश्वविद्यालय के समाजशास्त्र विभाग विभाग का प्रमुख कार्य अंतर्विषयक शिक्षण और अनुसंधान को बढ़ावा देना है। विभाग के पास विभिन्न पृष्ठभूमि व अनुभवों से युक्त समर्पित संकाय सदस्यों का एक समूह उपलब्ध है। विभाग में विषय के केन्द्र में जहाँमुद्दे और विषयवस्तु है वहीं शिक्षण व अनुसंधान गतिविधियाँ समकालीन प्रश्नों पर दोनों बुनियादी और व्यवहारिक आयामों के अनुरूप हैं। विभाग के पाठ्यक्रम को विकसित करने के समयआरंभमें ही क्षेत्रीय, राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय परंपराओं को ध्यान में रखा गया है।

स्थापना वर्ष :

2011

शोध हेतु प्रमुख क्षेत्र :

धार्मिक समाजशास्त्र, शिक्षण समाजशास्त्र, आर्थिक/जीवन/विकास समाजशास्त्र सांस्कृतिक एवं संचार अर्थशास्त्र, लैंगिक एवं राजनैतिक समाजशास्त्र

विभागाध्यक्ष :

डॉ. शर्मिला छोटारे(Coordinator)

उपलब्ध कार्यक्रम :

  • एम.ए.
  • पीएच.डी.

प्रवेश क्षमता :

15

कुल नेट पात्रता प्राप्त छात्र :

---

पीएच.डी. से सम्मानित कुल छात्र :

---

कुल शोध परियोजना अनुदान (पूर्णएवं जारी) :

  • सेमिस डाटा 2011-12 (राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान – आरएमएसए) की रैंडम सैंपल चेकिंग परियोजना कार्याधीन है।

प्रदत्त विभिन्न कार्यक्रमों के पाठ्यक्रम के :

  • स्नातकोत्तर : डाउनलोड करें
  • स्नातक : डाउनलोड करें
  • पीएचडी कोर्स वर्क : डाउनलोड करें
  • अनुसन्धान पात्रता परीक्षा (आरईटी) : डाउनलोड करें

संगोष्ठी /सम्मेलन/ कार्यशाला / पुनश्चर्या / अभिमुखीकरण आदिआयोजित :

  • मीडिया, रियलिटी एवं पब्लिक स्फियर पर विशेष व्याख्यान सीरीज, 28 मार्च 2017
  • सांस्कृतिक बहुलता वाद एवं राष्ट्रनिर्माण विषयक जनव्याख्यान, 29 नवंबर 2016
  • ‘लविंग द व्हाइट एंड लिविंग विद द ब्लैक :लोकेटिंग द ग्रे बिटवीन द लाइंस’,द्वारा – प्रो. के. एन. जेना (राजनीतिशास्त्र विभाग, त्रिपुरा विश्वविद्यालय), दिनांक 27 जुलाई, 2012.
  • ‘इस्यू ऑफ सिक्योरिटी :अ कंप्रिहेंसिव एनैलिसिस’,द्वारा - प्रो. के. एन. जेना (राजनीतिशास्त्र विभाग, त्रिपुरा विश्वविद्यालय), दिनांक 02 अगस्त, 2012.
  • ‘न्यू इकोनॉमिक पॉलिसी एंड इट्स सोसल कॉन्सीक्वेंसेस’,द्वारा – अरबिंदो माहातो (सहायक प्राध्यापक, एमआरएमडी विभाग, त्रिपुरा विश्वविद्यालय) दिनांक –09 अगस्त, 2012.
  • ‘चेंज ऑफ हिस्ट्री राइटिंग इन नॉर्थ इस्ट इंडिया :विद स्पेसिफिक रिफ्रेंस टू त्रिपुरा’, द्वारा – प्रो. सत्यदेव पोद्दार (इतिहास विभाग, त्रिपुरा विश्वविद्यालय) दिनांक –16 अगस्त, 2012.
  • ‘कंसेप्ट ऑफ ज्वाइंट फॉरेस्ट मैनेजमेंट एंड पार्टिसिपेट्री अप्रोच’, द्वारा – डॉ. थीरू सेल्वन, दिनांक –23 अगस्त, 2012
  • ‘डोमेस्टिक वायलेंस इन त्रिपुरा’, द्वारा – प्रो. सी. बी. मजूमदर (राजनीतिशास्त्र विभाग, त्रिपुरा विश्वविद्यालय), दिनांक –30 अगस्त, 2012.
  • ‘इंटरकनेक्टेडनेस अमांग द अनकंजेनियल्स’, द्वारा – प्रो. पी. के. हालदार ( त्रिपुरा विश्वविद्यालय), दिनांक –13 सितं., 2012.

संपर्क हेतु पता :

समाजशास्त्र विभाग
त्रिपुरा विश्वविद्यालय (केन्द्रीय विश्वविद्यालय),सूर्यमणिनगर - 799022,
त्रिपुरा , भारत
दूरभाष: +91- 8974040172, ई.मेल :rajeevdubey[@]tripurauniv.in,hod_sociology[@]tripurauniv.in

प्रयोगशाला सुविधाएँ :

---

शोध समूहों का विवरण :

---

सहयोग :

---

अन्य सूचनाएँ (यदि कोई है) :

निम्नलिखित प्राध्यापकों ने वर्ष 2012 के प्रथम सेमेस्टर (जुलाई-दिसं., 2012) के दौरान दौरा किया


क्रम संनामसंस्थाड्यूटी की प्रकृति
1 प्रो. जी. राम असम विश्वविद्यालय, सिलचर अतिथि प्रवक्ता
2 प्रो.बिपुलभद्र जादवपुर विश्वविद्यालय अतिथि प्रवक्ता

पीएच.डी. स्कॉलर्स

चित्रनामविषयसंपर्क विवरण
सुमन दास निर्णयाधीन है दूरभाष :+91-8732054752
ई-मेल : This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.
अमित कुमार देब निर्णयाधीन है दूरभाष :+91- 9774426337
ई-मेल : This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.
सुदेशना चंदा निर्णयाधीन है दूरभाष :+91- 9862521334
ई-मेल : This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.
लालमासॉमी साइलो निर्णयाधीन है दूरभाष :+91- 9612534318
ई-मेल : This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.
रेमरुअतपुई तोच्वांग निर्णयाधीन है दूरभाष :+91- 8974016369
ई-मेल : This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.
© त्रिपुरा विश्वविद्यालय                                                                                                                                                      रूपांकन : वाया विटे सॉल्यूशनस